Home / उत्तर प्रदेश / पीएम व सीएम के नेतृत्व में 45 करोड़ की लागात से 100 बेड का क्षेत्रीय नेत्र संस्थान बीएचयू में बन कर तैयार

पीएम व सीएम के नेतृत्व में 45 करोड़ की लागात से 100 बेड का क्षेत्रीय नेत्र संस्थान बीएचयू में बन कर तैयार

पीएम पूर्वांचल में क्षेत्रीय नेत्र संस्थान का करेंगे लोकार्पण 

वाराणसी। प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के 15 जुलाई के दौरे पर क्षेत्रीय नेत्र संस्थान की सौग़ात देंगे। पूर्वांचल के लोगों को अब आंखों के इलाज के लिए चेन्नई और दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा। आंखों के हर तरह की समस्या अब बीएचयू स्थित क्षेत्रीय नेत्र संस्थान किफ़ायती दर पर दूर करेगा। 100 बेड के इस आधुनिक संस्थान को  बनाने में क़रीब 45 करोड़ की लागत आई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में 15 जुलाई को आएंगे। अपने दौरे के दौरान पीएम बीएचयू में बनकर तैयार हुए पूर्वांचल के पहले क्षेत्रीय नेत्र संस्थान का उद्घाटन करेंगें। क्षेत्रीय नेत्र संस्थान के  प्रमुख़ प्रोफेसर डॉ.एम के सिंह ने बताया कि ये 45 करोड़ की लागत से बने इस आधुनिक संस्थान के बनने से पूर्वांचल ही नहीं पूरे उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को बड़ी राहत मिल जाएगी। प्रोफेसर सिंह ने बताया कि ख़ास बात ये है कि बीएचयू का नेत्र विभाग भी बनारस के ही रहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने 1964 में बनवाया था और अब वाराणसी के सांसद पीएम मोदी अब क्षेत्रीय नेत्र संस्थान का उद्घाटन करेंगे।

प्रोफेसर एम के सिंह ने बताया कि बीएचयू में क्षेत्रीय नेत्र संस्थान शुरू होने से रेटिना, ग्लूकोमा, कार्निया, भैंगापन (squint ) समेत नेत्र की  लगभग सभी बीमारियों का इलाज़ स्पेशियलिटी की सुविधा के साथ होगा। ज़्यादातर निजी चिकित्सालयों में प्रचलित लेसिक सर्जरी भी अब सस्ते दरों पर क्षेत्रीय नेत्र संस्थान में किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अब टेलीमेडिसीन की सुविधा और टीचर ट्रेंनिग की बेहतर व्यस्था हो जाएगी। 100 बेड के आधुनिक सुविधा के साथ 4 मॉडुलर ऑपरेशन थिएटर बना है। टेलीमेडिसिन, कान्फ्रेंस और क्लास के लिए तीन हाल बनाए गए है। संस्था में सभी आधुनिक मेडिकल उपकरण लगे हैं। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों के मुक़ाबले यहां इलाज कराना काफ़ी सस्ता होगा। इस संस्था के लोकार्पण से नए रोज़गार के अवसर भी खुलेंगे। साथ ही सरकार की राष्ट्रीय अंध निवारण योजना को इस संस्थान के माध्यम से और  कारगार बनाया जाएगा। क़रीब 45 करोड़ की लागत से 6 मंजिल इस संस्थान के लोकार्पण के बाद पूर्वांचल के लोगों को काफी लाभ मिलेगा।

Check Also

A Construction Administration Degree Will let you Achieve Aims

Whether you are starting your career or already employed in the construction market, a development ...