Home / उत्तर प्रदेश / सात फेरों से पहले इस बात से नाराज होकर जंगल में भागा दूल्हा, 5 घंटे की मशक्कत के बाद ​खोजा गया

सात फेरों से पहले इस बात से नाराज होकर जंगल में भागा दूल्हा, 5 घंटे की मशक्कत के बाद ​खोजा गया

रामपुर: उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में शादी में बारातियों के लिए खराब व्यवस्था से नाराजगी का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. यहां दूल्हा सात फेरों से पहले ही जंगल की तरफ भाग गया. काफी खोजबीन के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला. करीब पांच घंटे बाद पुलिस ने दूल्हे को उसके साथियों के साथ जंगल से ढूंढ निकाला.

दरअसल बारातियों को खाना मनमर्जी के मुताबिक नहीं मिला तो इसको लेकर बवाल हो गया. बारातियों और घरातियों में नोकझोंक के बाद मारपीट होने लगी. इससे नाराज दूल्हा मंडप छोड़कर जंगल की ओर भाग गया. मौके पर आई पुलिस ने दोनों पक्षों को शांत कराया और दूल्हे की तलाश शुरू की. करीब पांच घंटे की मशक्कत के बाद दूल्हे को खोजने में पुलिस कामयाब हुई. बाराती और घराती पक्ष में समझौते के बाद देर रात शादी की रस्म पूरी हुई.

मामला रामपुर जिले के अजीमनगर थाना क्षेत्र के धूलिया गंज गांव का है. मिलक मुफ्ती गांव निवासी महिपाल की बारात धूलिया गंज गांव में आई थी. बारात पहुंचने पर स्वागत सत्कार हुआ और भोजन के लिए सबको बैठाया गया. बाराती मनमर्जी का खाना न देख भड़क उठे और हंगामा करने लगे. घरातियों ने विरोध दर्ज कराया तो नौबत मारपीट तक पहुंच गई. नाराज दूल्हा अपने साथियों को लेकर मंडप से जंगल की ओर भाग निकला.

दूल्हे को भागता देखकर ग्रामीणों ने उसका पीछा किया, लेकिन पकड़ नहीं सके. मामला पुलिस तक पहुंचा तो हल्का प्रभारी राजपाल सिंह घटनास्थल पर पहुंचे. रात को दूल्हे की तलाश में पुलिस ने जंगल में छानबीन की. रात करीब 12 बजे दूल्हे जंगल में मिला. दोनों पक्षों के बीच रात में ही पंचायत हुई और  समझौते के बाद शादी की रस्में पूरी की गईं. थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार ने कंफर्म किया कि खाने को लेकर बारात में कुछ विवाद हो गया था.

Check Also

गीता प्रेस के ट्रस्टी बैजनाथ का निधन, मुख्यमंत्री योगी ने जताया शोक

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गीता प्रेस, गोरखपुर के ट्रस्टी बैजनाथ अग्रवाल के निधन पर ...